Vivo का फोल्डेबल फोन X Fold 3 भारत में जल्द लॉन्च हो सकता है

चीन में 26 मार्च को लॉन्च होने के बाद, Vivo जल्द ही अपना फोल्डेबल स्मार्टफोन, Vivo X Fold 3, भारत में लॉन्च कर सकता है। इस फोन को अब तक का सबसे पतला फोल्डेबल फोन …

Vivo X Fold 3

चीन में 26 मार्च को लॉन्च होने के बाद, Vivo जल्द ही अपना फोल्डेबल स्मार्टफोन, Vivo X Fold 3, भारत में लॉन्च कर सकता है। इस फोन को अब तक का सबसे पतला फोल्डेबल फोन बताया जा रहा है और यह दमदार क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 8 जेन 3 प्रोसेसर पर चलता है। भारत में पहले से ही दो लोकप्रिय फोल्डेबल डिवाइस मौजूद हैं: वनप्लस ओपन और गैलेक्सी जेड फोल्ड 5। यह देखना दिलचस्प होगा कि कैमरा-केंद्रित फोनों के लिए मशहूर Vivo इन बड़े खिलाड़ियों के साथ कैसे मुकाबला करता है।

91Mobiles की एक रिपोर्ट के अनुसार, Vivo X Fold 3 को भारत में भी लॉन्च किया जाएगा। खास बात यह है कि इसे बाजार में सबसे पतला फोल्डेबल फोन बताया जा रहा है। इसकी तुलना करें तो इसका पिछला वर्जन, X Fold 2, पहले से ही काफी पतला है, जिसकी मोटाई 12.9mm है।

हालांकि, उम्मीद है कि यह नया फोन और भी ज्यादा पतला होगा। अगर ये अफवाहें सच होती हैं, तो X Fold 3 की मोटाई कुछ रेगुलर स्मार्टफोन्स जैसे Galaxy S24 Ultra और Google Pixel 8 Pro के बराबर होगी, जो क्रमशः 8.6mm और 8.8mm मोटे हैं।

गौरतलब है कि Vivo ने 26 मार्च को चीन में X Fold 3 और X Fold 3 Pro लॉन्च किए थे और यहां दोनों फोन्स की स्पेसिफिकेशन्स हैं।

डिजाइन के मामले में, Vivo X Fold 3 सीरीज़ के दोनों वेरिएंट्स में एक गोल रियर कैमरा मॉड्यूल है। स्टैंडर्ड वैरिएंट केवल 4.65mm मोटा होने का दावा करता है, जो फोल्ड होने पर इसे सबसे पतला फोल्डेबल फोन बनाता है। इसका वजन भी iPhone 15 Pro Max से कम है, जो कि 219 ग्राम है। Vivo बताता है कि X Fold 3 सीरीज़ में कार्बन-फाइबर से बना बहुत टिकाऊ और हल्का फोल्डिंग हिंज इस्तेमाल किया गया है।

इसके अतिरिक्त, फोल्डेबल फोन ने आर्मर ग्लास की बदौलत स्विस एसजीएस फाइव-स्टार ड्रॉप रेसिस्टेंट सर्टिफिकेशन हासिल किया है। प्रो और स्टैंडर्ड दोनों मॉडल क्रमशः IPX8 और IPX4 सर्टिफिकेशन के साथ वाटर रेसिस्टेंट हैं।

Vivo X Fold 3

Vivo X Fold 3: कैमरा

फोटो लेने की बात करें तो, Vivo X Fold 3 सीरीज़ के दोनों वर्ज़नों में पीछे की तरफ तीन कैमरे हैं। इन सभी में एक 50 मेगापिक्सल का मेन कैमरा और दूसरा 50 मेगापिक्सल का वाइड-एंगल शॉट्स के लिए है। रेगुलर वर्जन में पोर्ट्रेट फोटोज के लिए एक अतिरिक्त 50 मेगापिक्सल का कैमरा है, जबकि X Fold 3 Pro में 64 मेगापिक्सल का कैमरा है जो तीन गुना ज़ूम इन कर सकता है और इसकी फोकल लेंथ 70mm है। सेल्फी के लिए, दोनों फोनों में 32 मेगापिक्सल का कैमरा है जो स्क्रीन पर एक छोटे से होल में बैठता है।

Vivo X Fold 3: प्रोसेसर

प्रोसेसर के मामले में, Vivo X Fold 3 Pro स्नैपड्रैगन 8 जेन 3 प्रोसेसर पर चलता है, जबकि रेगुलर वर्जन पुराने स्नैपड्रैगन 8 जेन 2 चिप का इस्तेमाल करता है। दोनों फोनों में 16GB तक रैम और 1TB तक स्टोरेज हो सकती है। X Fold 3 में 5,500mAh की बैटरी है जो 80W तक की फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करती है, जबकि Fold 3 Pro में 5,700mAh की बड़ी बैटरी है जो 100W तक की और भी तेज चार्जिंग को सपोर्ट करती है। प्रो वर्जन 50W पर वायरलेस चार्जिंग को भी सपोर्ट करता है।

दोनों फोनों में अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए स्टीरियो स्पीकर हैं और ये वाई-फाई 7 को सपोर्ट करते हैं। साथ ही, ये 5G कनेक्टिविटी को दो सिम कार्ड के साथ सपोर्ट करते हैं, IR डिवाइसों जैसे टीवी को कंट्रोल कर सकते हैं और कॉन्टैक्टलेस पेमेंट्स के लिए NFC का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अंत में, अभी भारत में लॉन्च की तारीख और कीमत का खुलासा नहीं हुआ है। लेकिन, अगर अफवाहों पर भरोसा किया जाए, तो इसकी कीमत काफी अधिक होने की संभावना है, खासकर प्रो वर्जन की। यह देखना बाकी है कि क्या Vivo अपने कैमरा टेक्नॉलॉजी और पतले डिज़ाइन के साथ भारतीय बाजार में धूम मचा सकता है।

ALSO READ:
VIVO T3 5G: धांसू मिड-रेंजर स्मार्टफोन

Leave a Comment

Discover more from हिंदी टेक डेली

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading